24-03-2020 Tuesday

कोरोना संक्रमण से बचाव एवं सहयोग के लिए पहल,

कोरोना संक्रमण से बचाव एवं सहयोग के लिए पहल,

मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिया एक-एक दिन का वेतन,

 जैसलमेर जिला कलक्ट्री के 49 अधिकारियों व कर्मचारियों ने लिया निर्णय

जैसलमेर, 24 मार्च/ कोरोना संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आह्वान पर जैसलमेर जिला कलक्टर नमित मेहता सहित जिला कलक्ट्री के 49 अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने मार्च माह के वेतन से एक-एक दिन का वेतन स्वेच्छा से मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिए जाने की घोषणा की है।

इनमें जिला कलक्टर नमित मेहता, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओमप्रकाश विश्नोई सहित 49 अधिकारी एवं कार्मिक शामिल हैं। इनमें निर्वाचन शाखा व भू अभिलेख के 9-9, जिला पुल के 6 तथा कलक्ट्रेट कार्यालय के 24 राज्यकर्मी शामिल हैं।

---000---

कोरोना वायरस संक्रमण रोकथाम के मद्देनज़र हर स्तर पर गंभीरतापूर्वक प्रयास करें

जैसलमेर जिला कलक्टर एवं एसपी ने वीसी के बाद बैठक कर दिए निर्देश,

अधिकारियों से कहा  - मुख्यमंत्री द्वारा वीसी में दिए गए निर्देशों की अक्षरशः पालना करें

 

जैसलमेर, 24 मार्च/जिला कलक्टर नमित मेहता एवं जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग ने कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के ऎहतियाती उपायों को तीव्रतर करने के साथ ही लॉक डाउन की स्थिति में सामाजिक सरोकारों के निर्वहन में पूरी तत्परता से जुटने का आह्वान समस्त सरकारी मशीनरी और सहयोगियों से किया है।

जिला कलक्टर एवं एसपी ने मंगलवार को सूचना प्रौद्योगिकी के वीसी रूम में मुख्यमंत्री की वीडियो कांफ्रेंस के उपरान्त जिले के प्रमुख अधिकारियों की महत्वपूर्ण बैठक ली और यह आह्वान करते हुए महत्वपूर्ण निर्देश दिए। बैठक में प्रशासनिक, पुलिस और विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा कि आगामी 8-10 दिन अत्यधिक चुनौतियों भरे हैं इसलिए अपनी पूरी क्षमता से सौंपे गए दायित्वों का निर्वहन करें और इस आपदा से क्षेत्र को मुक्त रखने के लिए प्राण-प्रण से प्रयास करें।

ये दिए गए निर्देश

जिला कलक्टर ने अधिकारियों से कहा कि वे मुख्यमंत्री द्वारा वीसी में दिए गए निर्देशों की अक्षरशः पालना सुनिश्चित करें और हर स्तर पर प्रभावी गतिविधियों को अंजाम दें। नियंत्रण कक्षों को अहर्निश संचालित रखते हुए प्रभावी बनाएं। चैक पोस्ट पर सख्त निगरानी रखें। माईक व अन्य माध्यमों से निरन्तर प्रचार-प्रसार करें और कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए हिदायतों के बारे में जनमानस को जानकारी दें। डोर टू डोर सर्वे के लक्ष्यों को जल्द से जल्द पूर्ण करें। एनएफएसए के अन्तर्गत पात्र परिवारों को दो माह का राशन उपलब्ध कराने की पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित करें। जन रसोई और फूड पैकेट्स आदि के लिए अपने क्षेत्र के भामाशाहों को प्रेरित कर सहयोग लें।

प्राथमिकता पर है यह काम

जिला कलक्टर ने कोरोना वायरस संक्रमण से संबंधित अब तक की गतिविधियों की क्षेत्रवार एवं गतिविधिवार समीक्षा की और अधिकारियों से कहा कि कोराना वायरस के संक्रमण से बचने-बचाने के लिए किए जा रहे कार्यों को सर्वोच्च प्राथमिकता से लें और पूरी शक्ति एवं मन लगाकर काम करेंं।

जिला कलक्टर ने सभी प्रशासनिक एवं विभागीय अधिकारियों से कहा कि वे लॉक डाउन की सख्ती से पालना कराएं ताकि अपने जैसलमेर को कोरोना के संक्रमण से मुक्त रखा जा सके। जिला कलक्टर ने बताया कि जिले मेें अब तक स्थिति नियंत्रण में रही है और इसे आगे भी बरकरार रखा जाना है, इसके लिए आगामी कुछ दिन तक विशेष प्रयासों में जुटने की आवश्यकता है।

 

जरूरतमन्दों के लिए भोजन के माकूल प्रबन्धों पर जोर

उन्होंने जिले में दिहाड़ी मजदूरों, गरीबों और जरूरतमन्दों के लिए भोज्य सामग्री के प्रबन्धों की समीक्षा की और जन रसोई तथा इन जरूरतमन्दों को रसोई की कच्ची सामग्री के पैकेट मुहैया कराने के कामों को व्यवस्थित तरीके से करने पर जोर दिया तथा कहा कि सभी क्षेत्रों में अच्छी तरह ऎसे प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं कि किसी को भी भूखा न सोना पड़े।  

उन्होंने जिला कोषाधिकारी को निर्देश दिए कि जिले के पेंशनधारियों को दो माह की पेंशन का भुगतान तत्काल प्रभाव से किए जाने की व्यवस्था करें।

लॉक डाउन की पालना के लिए पुलिस है मुस्तैद

जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग ने कहा कि लॉक डाउन की पूरी-पूरी पालना कराने के लिए पुलिस विभाग व्यापक स्तर पर जुटा हुआ है और समझाईश की जा रही है। इसके बावजूद जहां कहीं कोई जरूरत होगी और अधिक सख्ती बरती जाएगी। जिला कलक्टर ने जिले में अब तक की कार्यवाही पर संतोष व्यक्त किया।

---000---

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव,

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने दी एक लाख की धनराशि,

मॉस्क और सेनेटाईजर खरीदकर किया जाएगा निःशुल्क वितरण

जैसलमेर, 24 मार्च/अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के मद्देनज़र जैसलमेर जिले में मॉस्क एवं सेनेटाईजर क्रय कर इनके निःशुल्क वितरण के लिए विधायक मद में एक लाख रुपए की धनराशि प्रदान की है।

जिला कलक्टर द्वारा इस राशि का उपयोग मॉस्क एवं सेनेटाईजर खरीद कर निःशुल्क वितरण के लिए किया जाएगा।

---000---

जैसलमेर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव का अभियान युद्धस्तर पर जारी,

घर-घर सर्वे काम ने पकड़ी गति,

अब तक 192 टीमें कर चुकी हैं  42 हजार 233 घरों का सर्वे,

2 लाख 4 हजार 779 लोगों की हुई स्कर््रीनिंग

जैसलमेर 24 मार्च / कोरोना वायरस की रोकथाम एवं बचाव के लिए जैसलमेर जिले में हर स्तर पर सजगता एवं सतर्कता बरती जा रही है। जिले भर में डोर टू डोर सर्वे का कार्य तेजी से जारी है और अब तक बड़ी संख्या में सर्वे कार्य पूर्ण किया जा चुका है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.के. बारूपाल ने बताया कि जिला कलक्टर नमित मेहता के निर्देशों की अनुपालना में कोरोना वायरस की रोकथाम एवं बचाव के लिए जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत 192 टीमों द्वारा सोमवार तक कुल 42 हजार 233 घरों का सर्वे किया गया।  

सर्वे के दौरान 2 लाख 4 हजार 779 लोगों की स्क्रीनिंग का कार्य किया गया। कोरोना वायरस सर्वे व स्क्रीनिंग कार्य के लिए गठित दलों द्वारा आमजन को कोरोना वायरस के संबंध में जागरूक करने एवं लॉकडाउन अन्तर्गत जारी दिशा-निर्देशों का पूर्ण पालना करने के लिए भी निर्देशित किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि अन्य क्षेत्रों से जिले में सोमवार तक आ चुके 177 लोगों को होम क्वारेन्टाईन में रहने की सलाह दी गई है।

प्रभावी रोकथाम में जुटा चिकित्सा विभाग

डॉ. बारूपाल ने बताया कि कोरोना वायरस की रोकथाम एवं बचाव में चिकित्सा विभाग मुस्तैदी से जुटा हुआ है। जिले के समस्त चिकित्सा संस्थानों की ओपीडी में आने वाले रोगियों की भी चिकित्सकों द्वारा लगातार स्क्रीनिंग की जा रही है। जिले के समस्त चिकित्सा संस्थानों को प्रतिदिन संक्रमण मुक्त करने संबंधी गतिविधियांभी लगातार जारी है।

प्रवासियों की स्क्रीनिंग पर विशेष जोर

उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (स्वास्थ्य) डॉ. मुरलीधर सोनी ने बताया कि पूरे जिले में चिकित्सा विभाग के समस्त चिकित्सकों, अधिकारियों एवं विभागीय कार्मिकों द्वारा आमजन को कोरोना वायरस के संबंध में जागरूक करने, जिले में आने वाले समस्त प्रवासियों की चैक पोस्ट पर ही स्क्रीनिंग करने, उनको आगामी 14 दिन तक घर पर ही रहने की सलाह देने एवं प्रवासियों की लाईन लिस्ट बनाकर रोजाना नियमित मॉनिटरिंग संबंधी गतिविधियों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

---000---

लॉक डाउन अवधि में वाहनों के संचालन की अनुमति के लिए अधिकारी नियुक्त,

26 मार्च से पहले लेनी होगी अनुमत

जैसलमेर, 24 मार्च/कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए लॉक डाउन अवधि 31 मार्च तक कार्यालयों, दुकानों, संस्थाओं, सेवाओं, फैक्ट्री, वर्क शॉप आदि के उपयोग में आने वाले निजी वाहनों के लिए संचालन की अनुमति जिला कलक्टर, अतिरिक्त जिला कलक्टर, उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, जिला परिवहन अधिकारी से प्राप्त की जानी जरूरी है।

इस बारे में जिला मजिस्ट्रेट नमित मेहता ने आदेश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि इन वाहनों के संचालन के लिए पुलिस एवं स्थानीय प्रशासन से अनुमति 26 मार्च से पूर्व प्राप्त की जानी जरूरी है।

 लॉक डाउन से मुक्त रखे हुए केन्द्र और राज्य सरकार के अधिकारी, कर्मचारी, न्यायिक अधिकारी, न्यायालय स्टाफ, राजकीय एवं निजी अस्पताल के चिकित्सक, पेरामेडिकल व अन्य स्टाफ एवं मीडियाकर्मी अपने विभाग/संस्थान द्वारा जारी किए गए अधिकृत पहचान पत्र प्रस्तुत कर आवागमन कर सकेंगे, इन सभी को पृथक से अनुमति प्राप्त करने की आवश्यकता नहीं रहेगी।

वाहनों की अनुमति से संबंधित गतिविधियों की मोनिटरिंग के लिए जिला पुलिस अधीक्षक एवं जिला परिवहन अधिकारी को उत्तरदायी बनाया गया है।

जिले में समस्त प्रकार के निजी वाहनों के संचालन पर रोक की स्थिति में आपातकालीन जरूरत के लिए वाहन संचालन की अनुमति देने के लिए जिला एवं उपखण्ड स्तर पर कंट्रोल रूम इस प्रकार स्थापित किए गए हैं।

यहां स्थापित हैं नियंत्रण कक्ष, और यह हैं इनका सम्पर्क सूत्र

 

उपखण्ड कार्यालय जैसलमेर  दूरभाष नम्बर 02992-251127,  मोबाइल नम्बर - 9636145706

उपखण्ड कार्यालय पोकरण  दूरभाष नम्बर 02994-222237,  मोबाइल नम्बर - 7665297536

उपखण्ड कार्यालय फतेहगढ़ मोबाइल नम्बर - 9587777948

उपखण्ड कार्यालय भणियाणा  दूरभाष नम्बर 03019-230116,  मोबाइल नम्बर - 9828681081

श्री जवाहिर अस्पताल, जैसलमेर दूरभाष नम्बर  02992 - 250701

जिला परिवहन कार्यालय, जैसलमेर मोबाईल नम्बर - 9462378917

जिला मुख्यालय जैसलमेर  दूरभाष नम्बर 02992 - 250082

 

---000---

जैसलमेर - खाद्य सुरक्षा एवं सतर्कता समिति की बैठक निरस्त

जैसलमेर, 24 मार्च/कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनज़र आगामी 31 मार्च को होने वाली जिलास्तरीय खाद्य सुरक्षा एवं सतर्कता समिति की बैठक निरस्त कर दी गई है। यह जानकारी जिला रसद अधिकारी भागुराम महला ने दी।

----000---

कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए लॉक डाउन जारी,

जरूरतमन्दों के लिए जैसलमेर जिले में 13 स्थानों पर 31 मार्च तक भोजन सुविधा उपलब्ध

जैसलमेर, 24 मार्च/कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के ऎहतियाती उपायों के अन्तर्गत जारी 31 मार्च तक जारी लॉक डाउन की स्थिति में कमजोर तबके, निराश्रित एवं जरूरतमन्दों को मुख्यमंत्री भोजन योजना के अन्तर्गत जन रसोई में भोजन उपलब्ध कराने के लिए जैसलमेर जिले में 13 विभिन्न स्थानों पर भोजन की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

जिला कलक्टर नमित मेहता ने बताया कि जैसलमेर व पोकरण शहरी क्षेत्रों के साथ ही जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में 11 विभिन्न स्थानों पर भोजन सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

जैसलमेर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में मोहनगढ़, नाचना, चांधन, रामगढ़, फतेहगढ़, देवीकोट, रामदेवरा, सरदारसिंह की ढांणी, भणियाणा, फलसूण्ड एवं सांकड़ा में मुख्यमंत्री भोजन योजना में संचालित जन रसोई में भोजन सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

उन्होंने बताया कि इनमें जरूरतमन्दों को भामाशाहों, जन प्रतिनिधियों व नगर निकायों के सहयोग से भोजन पैकेट्स उपलब्ध कराए जा रहे हैं। जैसलमेर शहर में नगर परिषद तथा पोकरण शहर में नगरपालिका के सहयोग से यह सुविधा मुहैया कराई जा रही है।

जिला कलक्टर ने बताया कि इन सभी स्थानों पर बड़ी संख्या मेंं जरूरतमन्दों को भोजन सुविधा से लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले मेंं आगामी 31 मार्च तक सभी स्थानों पर जरूरतमन्दों, गरीबों, निराश्रितों एवं कमजोर तबके के लोगों के लिए भोजन सुविधा का प्रबन्ध जारी रहेगा।

जिला कलक्टर ने बताया कि भोजन सुविधा को लेकर हर स्तर पर बेहतर प्रबन्ध सुनिश्चित हैं और इनमें न कहीं धन की कोई कमी आने दी जाएगी और न कहीं अनाज की।

---000---

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव और रोकथाम के लिए व्यापक प्रबन्ध सुनिश्चित,

जैसलमेर जिले में 22 स्थानों पर 116 कक्षों में 1590 बेड की व्यवस्था तैयार

जैसलमेर, 24 मार्च/ कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव और रोकथाम के प्रयासों के लिए जैसलमेर जिले भर में प्रशासन ने व्यापक व्यवस्थाओं को अंजाम दिया है। जिले में कोरोना से बचाव की दृष्टि से क्वारेंटाईन के लिए विभिन्न स्थानों को भवनों को चिकित्सकीय आवश्यकताओं और सुविधाओं के अनुरूप स्थापित किया गया है।

जिला कलक्टर नमित मेहता ने बताया कि जैसलमेर जिले में क्वारेंटाईन के अन्तर्गत कुल 22 विभिन्न स्थानों पर 116 कक्षों में आइसोलेशन की सुविधा सुनिश्चित की गई है। इनमें कुल 1 हजार 590 बेड की क्षमता है।

जिला कलक्टर ने बताया कि जैसलमेर जिला मुख्यालय पर 6 स्थानों पर 44 कक्षों में 850 बेड स्थापित किए गए हैें।  इनमें धनलक्ष्मी महिला समृद्धि केन्द्र, बालिका छात्रावास (माडा) जेठवाई, किसान भवन, अम्बेडकर भवन, राजकीय पोलोटेक्निक महाविद्यालय एवं राजकीय कॉलेज लेवल कन्या छात्रावास शामिल हैं।

जिले के मोहनगढ़ में सावित्री बाई फूले राजकीय अनुसूचित जाति कन्या छात्रावास में 5 कक्षों में 50 बेड की व्यवस्था की गई है।  नाचना में अम्बेडकर छात्रावास व रेगिस्तानी क्षेत्र बालक छात्रावास के कुल 7 कक्षों में 130 बेड स्थापित किए गए हैं।

इसी प्रकार फतेहगढ़ के अम्बेडकर छात्रावास में 3 कक्षों में 50 बेड, सम के निजी रिसोर्ट व अल्पसंख्यक विभागीय छात्रावास के 5 कक्षों में 150 बेड, रामगढ़ में राजकीय प्राथमिक विद्यालय के 2 कक्षों में 40 बेड, पोकरण के रैनबसेरा नगरपालिका, पंचायत समिति गेस्ट हाउस एवं आशापुरा विश्राम गृह के 22 कक्षों में 95 बेड की व्यवस्था की गई है।

भणियाणा के राजकीय बालिका माध्यमिक विद्यालय के 10 कक्षों में 50 बेड, रामदेवरा के किसान सेवा केन्द्र एवं राजीव गांधी सेवा केन्द्र के 2 कक्षों में 45 बेड, सांकड़ा के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के 8 कक्षों में 50 बेड, फलसूण्ड के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के 5 कक्षों में 30 बेड, रामदेवरा के राजकीय अम्बेडकर छात्रावास के 3 कक्षों में 50 बेड की व्यवस्था की गई है।

---000---

जिला कलक्टर एवं एसपी ने किया जैसलमेर शहर का दौरा,

लॉक डाउन की स्थितियों का लिया जायजा

जैसलमेर, 24 मार्च/ जिला कलक्टर नमित मेहता एवं जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग ने मंगलवार शाम जैसलमेर शहर के विभिन्न स्थानों का दौरा किया और लॉक डाउन के हालातों का जायजा लिया। अतिरिक्त जिला कलक्टर ओपी विश्नोई, मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश, नगर परिषद आयुक्त बृजेश राय आदि अधिकारी उनके साथ थे।

जिला कलक्टर एवं जिला पुलिस अधीक्षक ने हनुमान चौराहा, गीता आश्रम, गफूर भट्टा, रामगढ़ बाय पास रोड, गांधी कॉलोनी, गड़ीसर चौराहा सहित शहर के विभिन्न क्षेत्रों का दौरा किया और  लॉक डाउन को प्रभावी बनाने के निर्देश दिए।

इस दौरान रामगढ़ बाय पास पर मोटरसाईकिलों पर आवाजाही करने वाले लोगों को रोका तथा पुलिस कर्मियों को निर्देश दिए कि ऎसे मामलों पर सख्त कार्यवाही करें।

जिला कलक्टर नमित मेहता एवं जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग ने सीमा ग्राम में भामाशाहों के सहयोेग से की गई भोजन व्यवस्था को देखा तथा इसे सुचारू रूप से वितरित करने के लिए अच्छी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। जैसलमेर विकास समिति के सचिव चन्द्रप्रकाश व्यास, समाजसेवी महेश व्यास (गोगा महाराज) ने जन रसोई की व्यवस्थाओं की जानकारी दी।

---000---

अस्पतालों का समय बदला, अब प्रातः 9 से अपराह्न 3 बजे तक मिलेंगी ओपीडी सेवाएं,

पर आपातकालीन सेवाएं 24 घण्टे जारी रहेंगी

जैसलमेर, 24 मार्च/कोरोना वायरस संक्रमण से उत्पन्न हालातों के मद्देनज़र चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधीन आने वाले सभी चिकित्सा संस्थानों में ओपीडी एक पारी में ही चलेगी और इसका समय आगामी आदेशों तक प्रातः 9 बजे से अपराह्न 3 बजे तक रहेगा।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आदेश की जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.के. बारूपाल ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनज़र समस्त चिकित्सा संस्थानों पर आपातकालीन चिकित्सा सेवाएं चौबीस घण्टे संचालित रहेंगी तथा चिकित्सा संस्थान के चिकित्सा प्रभारी आपातकालीन चिकित्सा से जुड़ी सभी व्यवस्थाएं बनाए रखेंगे।

&&&000&&&

लॉक डाउन से उत्पन्न स्थितियों से निपटने के लिए उठाया कारगर कदम,

जैसलमेर में स्थापित हुआ क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप,

जिला कलक्टर नमित मेहता ने जारी किए आदेश,

चौबीस घण्टे तीन पारियों में संचालित रहेगा यह, 12 अधिकारी नियुक्त

जैसलमेर, 24 मार्च/ कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनज़र जारी लॉक डाउन से उत्पन्न स्थितियों से निपटने के लिए जैसलमेर जिले में जिलास्तर पर एक क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की स्थापना की गई है।

जिला कलक्टर नमित मेहता द्वारा मंगलवार रात जारी आदेश के अनुसार इस ग्रुप के लिए 12 अधिकारियों की नियुक्ति की है। यह ग्रुप 24 घण्टे संचालित रहेगा। इसके लिए तीन पारियों में 4-4 अधिकारी लगाए गए हैं।

प्रातः 6 से दोपहर 2 बजे तक संचालित होने वाली प्रथम पारी के लिए उप निवेशन उपायुक्त देवाराम सुथार(9414383690), अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राकेश बैरवा( 8764514301), सामाजिक अधिकारिता एवं न्याय विभाग के सहायक निदेशक हिम्मतसिंह कविया ( 9414391308) एवं पुलिस निरीक्षक करणसिंह (9829112380) को लगाया गया है।

दोपहर 2 बजे से रात्रि 10 बजे तक संचालित होने वाली द्वितीय पारी के लिए सहायक निदेशक (लोक सेवाएं) भारतभूषण गोयल ( 8005505657), पुलिस उपाधीक्षक श्यामसुन्दर सिंह ( 9414230633), महिला एवं बाल विकास विभागीय उप निदेशक राजेन्द्र चौधरी ( 9460789723) एवं पुलिस निरीक्षक महेन्द्रसिंह ( 9784612597) को लगाया गया है।

रात्रि 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक संचालित होने वाली तृतीय पारी के लिए तहसीलदार विकास भाटी (9414523855), प्रभारी महिला यौन उत्पीड़न पुलिस उपाधीक्षक मुकेश चावड़ा( 9928667015), श्रम कल्याण अधिकारी मनोज चौधरी ( 9414766444) एवं पुलिस निरीक्षक अरुण कुमार ( 8003600360) को लगाया गया है।

आदेश के अनुसार कोरोना वायरस के फैलने के परिणाम स्वरूप जिले में किए गए लॉक डाउन में आने वाली समस्याओं के निस्तारण एवं समन्वय के लिए  क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप प्रभावी कार्यवाही करेगा।

यह ग्रुप 24 घण्टे जिला कलक्टर कार्यालय स्थित कन्ट्रोल रूम में कार्यरत रहेगा। इसका फोन नम्बर   02992 - 250082 है। यह ग्रुप राज्य सरकार एवं जिला कलक्टर द्वारा प्रदान किए गए निर्देशों के अनुसार कार्य करेगा एवं दैनिक रिपोर्ट जिला कलक्टर को प्रस्तुत करेगा।

---000---