14-03-2020 Saturday

दांडी यात्रा वर्षगांठ के उपलक्ष में नुक्कड़ नाटक एवं परंपरागत खेलों का हुआ आयोजन

जैसलमेर- महात्मा गांधी की 150वीं जयंती वर्ष के अंतर्गत दांडी यात्रा की वर्षगांठ के उपलक्ष में आज जैसलमेर ब्लॉक स्तरीय कार्यक्रम में गड़ीसर सर्किल पर सेवा भारती संस्था द्वारा स्वदेशी जागरण शीर्षक पर नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति दी गई जिसमें थिरपाल गर्ग द्वारा रचित नाटक में सुरेश भार्गव, दिनेश खत्री, कुमारी सोनिया, खूबचंद गर्ग एवं अमन गर्ग ने शानदार नाटक की प्रस्तुति दी। नुक्कड़ नाटक में अतिथि के रूप में महात्मा गांधी की 150वीं वर्षगांठ के जिला संयोजक उम्मेद सिंह तंवर, सह संयोजक रूपचंद सोनी, पूर्व सभापति नगर परिषद अशोक तंवर, जिला खेल अधिकारी राकेश बिश्नोई एवं भीख चंद सहायक कर्मचारी नगर परिषद उपस्थित रहे।

जिला खेल अधिकारी राकेश बिश्नोई ने बताया कि शहीद पूनम सिंह स्टेडियम में परंपरागत खेलों का आयोजन हुआ जिसमें सतोलिया एवं रस्साकशी खेल में खिलाड़ियों ने जोर आजमाइश की एवं निर्णायक की भूमिका कोजाराम चौहान अल्पकालीन हैंडबॉल प्रशिक्षक ने निभाई।

पंचायतीराज संस्थाओं के आम चुनाव -2020

30 ग्राम पंचायतों में चुनाव के लिए मतदान दल पहुंचे बूथों पर,

रविवार को होने वाले मतदान को लेकर सभी तैयारियां पूर्ण

जैसलमेर, 14 मार्च/पंचायतीराज चुनाव-2020 के अन्तर्गत जैसलमेर जिले की 7 पंचायत समितियों में 30 ग्राम पंचायतों में 15 मार्च, रविवार को होने वाले मतदान को लेकर सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। इन पंचायतों में प्रातः 8 बजे से शाम 5 बजे तक मतदान होगा।

चुनाव को लेकर शनिवार को एसबीके राजकीय महाविद्यालय में शनिवार को पूर्वाह्न पीठासीन अधिकारियों एवं मतदान अधिकारियों को अंतिम प्रशिक्षण हुआ। इसके बाद  मतदान दलों ने मतदान सामग्री प्राप्त कर अपने-अपने निर्धारित मतदान केन्द्र के लिए कूच किया।

अंतिम प्रशिक्षण के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी (कलक्टर) नमित मेहता, जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग, राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से नियुक्त पर्यवेक्षक प्रेमाराम परमार, उप जिला निर्वाचन अधिकारी (अतिरिक्त जिला कलक्टर) ओमप्रकाश विश्नोई, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश, नगर विकास न्यास के सचिव अनुराग भार्गव, प्रशिक्षण प्रभारी एवं उप निवेशन उपायुक्त देवाराम सुथार, सहायक निदेशक (लोक सेवाएं) भारतभूषण गोयल, जिले के उपखण्ड अधिकारीगण, नगर परिषद आयुक्त बृजेश राय, तहसीलदार एवं निर्वाचन प्रकोष्ठों से संबंधित प्रभारी एवं सहायक प्रभारी तथा विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

चुनाव को आशातीत सफल बनाएं

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला कलक्टर नमित मेहता ने मतदान से जुड़े सभी पीठासीन एवं मतदान अधिकारियों से पंचायत आम चुनाव को शांतिपूर्ण, स्वतंत्र एवं निष्पक्ष ढंग से आशातीत सफल बनाने के लिए आयोग के दिशा निर्देशों के अनुरूप समय पर दायित्वों का गंभीरतापूर्वक निर्वहन करने का आह्वान किया।

उन्होंने मतदान से संबंधित सभी अधिकारियों एवं कार्मिकों से कहा कि वे किसी भी प्रकार की दिक्कत सामने आने पर स्थानीयों से सहयोग या मशविरा लेने की बजाय निर्वाचन से संबंधित अधिकारियों एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों से सम्पर्क करें और जरूरी सूचनाओं का समय पर सम्प्रेषण करें।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने जैसलमेर की निर्वाचन टीम को श्रेष्ठ बताते हुए बधाई दी और कहा कि जिले की निर्वाचन गतिविधियों को सर्वत्र सराहना प्राप्त हुई है।

कानून व्यवस्था एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन के लिए पुख्ता प्रबन्ध

जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग ने बताया कि पंचायतीराज संस्थाओं के आम चुनाव को देखते हुए पुलिस प्रशासन की ओर से व्यापक प्रबन्ध किए गए हैं और सभी 30 ग्राम पंचायतों में रविवार को होने वाले निर्वाचन को देखते हुए 1 हजार पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है और सभी क्षेत्रों में सुरक्षा एवं शांतिपूर्ण तथा स्वतंत्र निर्वाचन के लिए पूरा जाब्ता लगाया गया है। उन्होंने मतदान से संबंधित सभी श्रेणियों के अधिकारियों से कहा कि  स्थानीय एसएचओ के मोबाइल नम्बर अपने पास रखें ताकि आवश्यकता पड़ने पर उपयोग में ला सकें।

निर्वाचन निर्देशों की अक्षरशः पालना करें

उप जिला निर्वाचन अधिकारी (अतिरिक्त जिला कलक्टर) ओ.पी. विश्नोई ने राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशों एवं पंचायत चुनाव संबंधित आदेशों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

उन्होंने स्पष्ट किया कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदान एवं मतगणना स्थल पर निर्वाचन कर्तव्यों के निर्वहन के अतिरिक्त मोबाइल का प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए। मतदान बंद करने के समय प्रतीक्षारत मतदाताओं को मतदान के लिए पंक्ति के अंतिम छोर से प्रारंभ करते हुए पीठासीन अधिकारी अपने स्वयं के हस्ताक्षर से पर्ची जारी करेगा।

इन्होंने दिया प्रशिक्षण

अंतिम प्रशिक्षण के दौरान प्रशिक्षण प्रभारी देवाराम सुथार, मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी बलवीर तिवारी एवं प्रशिक्षण टीम के कैलाश दान रतनू, रामाराम, विजयकुमार बल्लाणी आदि ने चुनाव से संबंधित सभी गतिविधियों पर पीठासीन एवं मतदान अधिकारियों से प्रशिक्षण दिया तथा उनकी जिज्ञासाओं का समाधान किया। बाद में इन अधिकारियों ने ईवीएम संचालन के बारे में भी जानकारी ली।

30 ग्राम पंचायतों के लिए 515 को प्रशिक्षण

रविवार को 30 ग्राम पंचायतों में होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर 515 पीठासीन एवं मतदान अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया गया।  इसके लिए 40 रिटर्निंग अधिकारी लगाए गए हैं जिनमें 10 आरक्षित हैं। इन चुनावों को सम्पन्न कराने के लिए 76 मतदान पार्टियाें को प्रशिक्षण व सामग्री देकर रवाना किया गया है। ये 76 बूथों पर रविवार को चुनाव कराएंगे।

---000---

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने ग्राम्यांचलों का दौरा किया, फलसूण्ड में की जनसुनवाई

जनोत्थान और सामुदायिक विकास के लिए हरसंभव प्रयास जारी - शाले मोहम्मद

 

जैसलमेर, 14 मार्च/अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा है कि प्रदेश सरकार आम जन के उत्थान और सामुदायिक विकास के लिए हरसंभव प्रयासों में जुटी हुई है और विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों के बेहतर क्रियान्वयन के माध्यम से सार्थक परिणाम सामने आ रहे हैं।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने शनिवार को जैसलमेर जिले के ग्राम्यांचलों के भ्रमण के दौरान ग्रामीणों को संबोधित करते हुए तथा जन सुनवाई करते हुए यह बात कही।

उन्होंने कहा कि सरकार हर क्षेत्र और हर वर्ग के कल्याण की दूरदर्शी सोच के साथ काम कर रही है और इन्हें विकास की मुख्य धारा मेंं लाने के साथ ही प्रदेश के बहुआयामी विकास के लक्ष्यों को साकार करने के लिए प्राण-प्रण से जुटी हुई है। खासकर बुनियादी लोक सेवाओं और सुविधाओं को मजबूत बनाने के साथ ही इनका विस्तार करते हुए गुणात्मक स्वरूप दिया जा रहा है।

उन्होंने ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए इनका पूरा-पूरा लाभ पाने के लिए आगे आने का आह्वान किया और कहा कि सरकार के कल्याणकारी कार्यक्रमों व योजनाओं में अधिकाधिक जनभागीदारी से ही विकास के लक्ष्यों को पाया जा सकता है।

जन समस्याओं का निराकरण सर्वोच्च प्राथमिकता

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने फलसूण्ड में जन सुनवाई के दौरान बड़ी संख्या में मौजूद ग्रामीणों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा जैसलमेर जिले के व्यापक विकास एवं ग्रामीणों की मांग के मद्देनज़र पूर्व में फलसूण्ड को उप तहसील बनाने के साथ ही भणियाणा को उपखण्ड मुख्यालय बनाए जाने तथा अब भणियाणा में महाविद्यालय खोले जाने की घोषणा का जिक्र किया और कहा कि इससे उच्च शिक्षा को बल मिलेगा तथा भणियाणा एवं फलसूण्ड क्षेत्र के विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा पाने के लिए दूर जाने की विवशता खत्म होगी।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री को जनसुनवाई में बड़ी संख्या में मौजूद ग्रामीणों ने क्षेत्रीय समस्याओं के निराकरण को लेकर आग्रह किया। इस पर शाले मोहम्मद ने ग्रामीणों की पानी, बिजली, शिक्षा, चिकित्सा, सड़़क, खेती-बाड़ी आदि से संबंधित समस्याओं के निराकरण के निर्देश संबंंधित अधिकारियों को दिए।

पेयजल आपूर्ति के प्रति रहें गंभीर

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने आसन्न गर्मी के मौसम को देखते हुए जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग एवं पोकरण-फलसूण्ड पेयजल लिफ्ट परियोजना के अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस प्रकार से व्यवस्था करें कि ग्रामीणों को पेयजल के मामले में किसी भी प्रकार की दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़े। इसके लिए अभी से जरूरी तैयारियां करते हुए गांवों-ढांणियों व दूरदराज के क्षेत्रों में पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करें।

उन्होंने कहा कि समय पर एवं नियमित रूप से पेयजल आपूर्ति के लिए क्षतिग्रस्त पाईपलाईनों की मरम्मत व सफाई तथा सभी जरूरी कार्यों को समय से पहले ही पूर्ण कर लें ताकि पेयजल आपूर्ति सुचारू बनी रह सके और ग्रामीणों को भीषण गर्मी के दिनों में कोई परेशानी न हो।

केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद ने शनिवार को फलसूण्ड में जन सुनवाई के साथ ही भीखोड़ाई, फूलरासर, दाँतल आदि ग्रामीण अंचलों का दौरा किया और जगह-जगह ग्रामीणों से चर्चा करते हुए जनता की समस्याओं को सुना तथा इनके समाधान के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

ग्रामीणों ने दिल खोलकर जताया मंत्री का आभार

क्षेत्रीय भ्रमण के दौरान ग्रामीणों ने क्षेत्रीय विकास  के साथ ही भणियाणा में राजकीय महाविद्यालय की घोषणा पर शाले मोहम्मद का अभिनंदन किया और आभार जताते हुए कहा कि ग्रामीणों की मांग पूरी होने पर क्षेत्र के विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा के लिए स्थानीय स्तर पर ही बेहतर अवसर सुलभ होंगे।

---000---

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री रविवार को जैसुराणा में,

सोमवार को जैसलमेर में करेंगे जन सुनवाई, लेंगे बैठक

जैसलमेर, 14 मार्च/अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद 15 मार्च, रविवार को प्रातः 9 बजे जैसुराणा जाएंगे तथा वहां से प्रातः 10 बजे जैसलमेर पहुंचेंगे।

निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार अल्पसंख्यक मामलात मंत्री 16 मार्च, सोमवार को दोपहर 2 बजे जैसलमेर जिला कलक्ट्री सभागार में जन सुनवाई करेंगे तथा इसके बाद सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज लम्बित परिवादों की समीक्षा करेंगे। रात्रि विश्राम जैसलमेर में करेंगे तथा अगले दिन शाम 4 बजे जैसलमेर से विमान द्वारा जयपुर के लिए प्रस्थान करेंगे।

---000---