05-05-2020 Tuesday

जैसलमेर से जयपुर पहुंचे बिहार के सभी प्रवासी श्रमिक मंगलवार शाम ट्रेन से बिहार के लिए रवाना

5 May, 2020
जैसलमेर से जयपुर पहुंचे बिहार के सभी प्रवासी श्रमिक  मंगलवार शाम ट्रेन से बिहार के लिए रवाना

जैसलमेर से जयपुर पहुंचे बिहार के सभी प्रवासी श्रमिक

मंगलवार शाम ट्रेन से बिहार के लिए रवाना

जैसलमेर, 5 मई/जैसलमेर जिले में लॉक डाउन की वजह से फंसे हुए बिहार राज्य के प्रवासी श्रमिकों को मंगलवार को जयपुर से रेल द्वारा बिहार के लिए भेज दिया गया। उल्लेखनीय है कि जैसलमेर जिले से लगभग 300 बिहारी प्रवासी श्रमिकों को जिला प्रशासन द्वारा बसों से जयपुर भेजा गया था।

राज्य सरकार की पहल पर इन्हें रेल द्वारा बिहार भेजने की व्यवस्था करते हुए मंगलवार को जयपुर रेलवे स्टेशन से बिहार के लिए विदा किया गया।  जैसलमेर से बिहार के प्रवासी श्रमिकों को तहसीलदार विकास भाटी के नेतृत्व में बसों से जयपुर पहुंचाया गया। वहां से उन्हें कटिहार(बिहार) के लिए रवाना किया गया। रेल्वे स्टेशन पर रेल्वे अधिकारियों, कार्मिकों एवं चिकित्सा दलों से जुड़े लोगों ने इन्हें तालियां बजाकर खुशी-खुशी विदा किया। विदा होने वाले बिहार के प्रवासी श्रमिकों ने घर पहुंचाने का प्रबन्ध करने के लिए सरकार को धन्यवाद दिया।

---000---

जैसलमेर - प्रवासियों के घरों पर सूचना चस्पा की गई,

होंम क्वारेंटाईन की पालना करने की हिदायत दी,

जैसलमेर, 5 मई/देश के विभिन्न हिस्सों से अपने घर जैसलमेर वापसी करने वालों का सिलसिला बना हुआ है। इन्हें मेडिकल स्क्रीनिंग और दूसरी सारी औपचारिकताओं की पूर्ति करने के बाद होम क्वारेंटाईन में रहने की सख्त हिदायत के साथ जिले के भीतर अपने गंतव्य की ओर भेजा जा रहा है।

मंगलवार को विभिन्न टीमों ने होम क्वारेंटाईन में रखे लोगों के घरों पर इस आशय की सूचना चस्पा की और निर्धारित दिनों तक होम क्वारेंटाईन के आदेशों का पूरा-पूरा पालन करने की हिदायत दी। जिले में विभिन्न स्थानों पर होम क्वारेंटाईन में रह रहे लोगों की जानकारी ली गई और जो-जो लोग बाहर से जैसलमेर आए हैं उनके घरों पर होम क्वारेंटाईन से संबंधित सूचना चस्पा की गई।

---000---

कोरोना हैल्थ बुलेटिन - 05 मई 2020

जैसलमेर - मंगलवार को कुल 50 रिपोर्ट प्राप्त, सभी नेगेटिव,

जिले से मंगलवार को 98 सेम्पल लेकर जांच के लिए भिजवाए गए

जैसलमेर, 05 मई/ जैसलमेर जिले से पूर्व में भिजवाए गए कोरोना सेंपल्स में मंगलवार को 50 जनों की रिपोर्ट प्राप्त हुई। प्राप्त सभी रिपोर्ट्स नेगेटिव आयी। जिले से मंगलवार शाम तक कोरोना संक्रमण जांच के लिए 98 सेम्पल लेकर भिजवाए गए हैं।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.के. बारूपाल ने मंगलवार रात यह जानकारी देते हुए बताया कि जैसलमेर जिले में आरंभ से मंगलवार शाम तक कोरोना जांच के लिए कुल 1 हजार 793 सेंपल लिए जा चुके हैं। इनमें से 1 हजार 572 की रिपोर्ट प्राप्त  हो चुकी है। इनमें अब तक मात्र 35 ही पोजिटीव निकले हैं जबकि अब तक 1 हजार 537  जनों के कोरोना सेंपल जांच में नेगेटिव आ गए हैं।

---000---

मॉस्क नहीं पहना तो खैर नहीं,

जैसलमेर शहर में बिना मॉस्क घूमते पाए गए कई लोग गिरफ्तार,

हरेक से वसूला गया 200 रुपए जुर्माना, मॉस्क पहनने की हिदायत दी

जैसलमेर, 5 मई/कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के मद्देनज़र लागू लॉक डाउन के अन्तर्गत बिना मॉस्क लगाए घूमते हुए नज़र आए तो खैर नहीं। गिरफ्तारी होगी और 200-200 रुपए जुर्माना भरना पड़ेगा वो अलग। जैसलमेर में बिना मास्क के घूमते पाए गए कई लोगों को गिरफ्तार कर 200-200 रुपए जुर्माना वसूला गया।

जैसलमेर के उपखण्ड अधिकारी दिनेश विश्नोई ने बताया कि राजस्थान सरकार  द्वारा 15 अप्रेल को जारी आदेश में लॉकडाउन आदेश में सार्वजनिक स्थानों, कार्यालयों, कार्यस्थलों में चेहरे पर मॉस्क पहनना अनिवार्य किया गया है।  अब 17 मई तक गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा बढ़ाए गए लॉकडाउन में भी यही नियम लागू है।

उपखण्ड अधिकारी ने बताया कि इसी क्रम में जैसलमेर शहर में गुलाम फरीद पुत्र मो. गुलाम हुसैन, ओमप्रकाश पुत्र शिवदानराम, तरुण पुत्र दीनदयाल, दलपतराम पुत्र मुल्तानाराम, हुकमाराम पुत्र नारायणराम, विजय कुमार पुत्र मघाराम, दिनेश पुत्र पप्पूराम, सिंकदर अली पुत्र नबीबक्स, हुकमाराम पुत्र तगाराम को नगरीय परिक्षेत्र में कोविड-19 के तहत लॉकडाउन में बिना मास्क के घूमते नजर आये। इनको थानाधिकारी पुलिस थाना कोतवाली जैसलमेर द्वारा गिरफ्तार कर उपखण्ड अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत किया।

जैसलमेर उपखण्ड मजिस्ट्रेट दिनेश बिश्नोई द्वारा राजस्थान महामारी अध्यादेश 2020 की धारा 11 द्वारा प्रदत शक्तियों का प्रयोग करते हुए इन सभी व्यक्तियों द्वारा फेस मॉस्क या फेस कवर (जिसमें नाक और मुंह समुचित रूप से ढका हो) नहीं पहनने के अपराध में प्रति व्यक्ति 200 रुपए जुर्माना वसूल किया गया।  उपखण्ड अधिकारी जैसलमेर द्वारा सभी व्यक्तियों को फेस मॉस्क या फेस कवर (जिसमें नाक और मुंह समुचित रूप से ढका हो) पहनने के निर्देश दिये गये। उपखण्ड अधिकारी ने बताया कि मॉस्क का उपयोग नहीं करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही निरन्तर जारी रहेगी।

----0000---Read More