27-05-2020 Wednesday

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने नाचना में ली समीक्षा बैठक

27 May, 2020
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने नाचना में ली समीक्षा बैठक

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने नाचना में ली समीक्षा बैठक,

अघिकारियों से कहा -

पानी-बिजली और बुनियादी लोक सेवाओं की सुचारू आपूर्ति के प्रति रहें गंभीर

जैसलमेर, 27 मई/अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद ने मौजूदा ग्रीष्मकाल के मद्देनज़र जिले में पानी-बिजली की नियमित आपूर्ति के लिए सभी संभव उपायों को अपनाने पर जोर दिया है और अधिकारियों से कहा है कि इनसे संबंधित शिकायतों और समस्याओं का तत्काल निराकरण कर जनता को समय पर राहत का अहसास कराएं।

केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद ने बुधवार को जैसलमेर जिले के नाचना क्षेत्र का दौरा किया और इस दौरान नाचना के राजीव गांधी सेवा केन्द्र में बुनियादी सेवाओं और लोक सुविधाओं से संबंधित महकमों के अधिकारियों की बैठक ली और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

ग्रामीणों के लिए जलापूर्ति के प्रबन्ध सर्वोच्च प्राथमिकता पर

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने भीषण गर्मी के मौजूदा दौर में ग्रामीण क्षेत्रों खासकर दूरदराज की ढाणियों तक में पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करने पर बल दिया और कहा कि यह अच्छी तरह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि ग्रामीणों को पानी के मामले में किसी भी प्रकार की दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़े। इसके लिए जल योजनाओं को सुचारू रखें, हैण्डपम्पों की दुरस्ती का काम अभियान के तौर पर किया जाए तथा जहां कहीं पानी की विकट समस्या की जानकारी सामने आए, वहां तत्काल टैंकर भिजवाकर लोगों को पानी पहुंचाया जाए।

उन्होंने ग्रीष्मकाल में बिजली की आपूर्ति पर्याप्त रखने, ढीले तारों को ठीक करने, जल योजनाओं के लिए बिजली कनेक्शन से संबंधित कामों को सर्वोच्च प्राथमिकता से करने के निर्देश दिए।

कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों पर जोर

केबिनेट मंत्री ने कोरोना महामारी से बचाव एवं रोकथाम के लिए किए जा रहे उपायों की समीक्षा करते हुए इससे बचाव के लिए जरूरी सभी सुरक्षा उपायों को अपनाने के प्रति व्यापक लोक जागरुकता संचार की अपील की और कहा कि मॉस्क की अनिवार्यता, सोशल डिस्टेंसिंग आदि की पालना कड़ाई के साथ सुनिश्चित की जानी चाहिए।

आंचलिक विकास गतिविधियों पर दें समुचित ध्यान

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि वे कोविड-19 से बचाव की गतिविधियों के साथ ही विभागीय गतिविधियों, योजनाआेंं व कार्यक्रमों में लक्ष्य प्राप्ति, लोक समस्याओं के निराकरण, आधारभूत सेवाओं तथा सुविधाओं को सुचारू बनाए रखते हुए इनके विस्तार और सुदृढ़ीकरण आदि के प्रति भी अब पूरा-पूरा ध्यान दें ताकि जिले के विकास की रफ्तार बनी रह सके।

उन्होंने उप निवेशन विभागीय अधिकारियों से कहा कि विभागीय गतिविधियों के साथ ही आगामी समय में सरकार की योजनाओं के मद्देनज़र समुचित तैयारी रखें।

इस दौरान पुलिस उपाधीक्षक हुक्माराम, तहसीलदार डालाराम, राजेश विश्नोई, विकास अधिकारी हीरालाल कलबी, सांकड़ा के विकास अधिकारी नारायणलाल सुथार, थानाधिकारी, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी, बिजली, उप निवेशन, ग्रामीण विकास, सार्वजनिक निर्माण आदि विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

---000---

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने नाचना सीएचसी का निरीक्षण किया,

व्यवस्थाओं की जानकारी ली, सुविधाओं के विस्तार का आश्वासन दिया

जैसलमेर, 27 मई/अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद ने बुधवार को जैसलमेर जिले के नाचना क्षेत्र का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने नाचना के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का औचक निरीक्षण किया और विभिन्न व्यवस्थाओं की जानकारी ली तथा संतोष व्यक्त किया।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने अस्पताल में विभिन्न गतिविधियों को देखा तथा खासकर ओपीड़ी, चिकित्सा सेवाओं, मौसमी बीमारियों, कोविड-19 से संबंधित प्रबन्धों पर जानकारी ली। प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. महेन्द्र कुमार, चिकित्साधिकारी डॉ. अशोक कुमार एवं डॉ रवि सांखला ने केबिनेट मंत्री को कोविड -19 सहित अस्पताल की सेवाओं और प्रबन्धों के बारे में विस्तार से जानकारी दी और संसाधनों की उपलब्धता के लिए आग्रह किया।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सुविधाओं को सुदृढ़ बनाने तथा सुविधाओं के व्यापक विस्तार के लिए भरसक प्रयासरत है और नाचना सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की जरूरतों तथा सेवाओं के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने इसके लिए प्रस्ताव तैयार कर भिजवाने के लिए निर्देश दिए।

---000---

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने महानरेगा कार्य का निरीक्षण किया,

श्रमिकों से चर्चा की, समय पर भुगतान सुनिश्चित करने के दिए निर्देश

जैसलमेर, 27 मई/ अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद ने बुधवार को नाचना क्षेत्र में महात्मा गांधी नरेगा योजना के अन्तर्गत रावली नाड़ी के खुदाई कार्य का निरीक्षण किया।  केबिनेट मंत्री ने श्रमिकों से बातचीत की और क्षेत्रीय सम सामयिक हालातों पर चर्चा की। विकास अधिकारी हीरालाल कलबी ने महानरेगा से संबंधित गतिविधियों पर जानकारी दी। मंत्री ने श्रमिकों को समय पर भुगतान सुनिश्चित करने पर जोर दिया और महानरेगा के कार्यों पर संतोष व्यक्त किया।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना तथा निराकरण का आश्वासन दिया और ग्रामीणों से कहा कि वे कोरोना से बचाव के सभी उपायों पर अमल करें। मास्क पहनें, सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखें, घर में रहें-सुरक्षित रहें।

---000---

जैसलमेर में नगर विकास न्यास ने शुरू की अतिक्रमण हटाने की मुहिम,

एसडी व्यास होटल कॉम्प्लेक्स व किशनघाट में जेसीबी से ध्वस्त किए अतिक्रमण

जैसलमेर, 27 मई/जैसलमेर में नगर विकास न्यास के स्वामित्व वाली भूमि पर अतिक्रमण हटाने की दिशा में न्यास ने प्रभावी कार्यवाही को अंजाम दिया है।

नगर विकास न्यास के अध्यक्ष एवं जिला कलक्टर नमित मेहता के निर्देश पर न्यास के सचिव अनुराग भार्गव ने तत्काल एक्शन लेते हुए न्यास स्वामित्व की भूमि पर हो रहे अतिक्रमण हटाने की ठोस पहल की है।

न्यास सचिव अनुराग भार्गव ने बताया कि नगर विकास न्यास द्वारा पिछले दो दिनों में राजस्व ग्राम जैसलमेर में एस.डी. व्यास होटल कॉम्प्लेक्स योजना तथा राजस्व ग्राम किशनघाट में जेसीबी लगाकर अतिक्रमणों को हटाया गया। इसी प्रकार जोधपुर रोड व बाड़मेर रोड पर मुख्य मार्ग पर अतिक्रमण कर स्थापित किए गए केबिन भी हटाए गए।

नगर विकास न्यास के सचिव अनुराग भार्गव ने बताया कि न्यास स्वामित्व वाली भूमियों पर किये गए अतिक्रमणों का हटाने का अभियान जारी रहेगा। उन्होंने कड़ी चेतावनी दी कि नगर विकास न्यास के स्वामित्व वाली भूमि पर कोई भी किसी भी प्रकार का अतिक्रमण ना करें अन्यथा अतिक्रमणकारी को आर्थिक हानि भुगतने के साथ ही कानूनी कार्यवाही का सामना करना पड़ेगा, जिसके लिए स्वयं अतिक्रमणकारी जिम्मेदार होंगे।

---000---

जिला कलक्टर नमित मेहता ने समीक्षा बैठक ली,

अधिकारियों को दिए जरूरी दिशा-निर्देश,

कोविड-19 को लेकर अब तक की कार्यवाही पर जताया संतोष

जैसलमेर, 27 मई/जिला कलक्टर नमित मेहता ने बुधवार को जैसलमेर जिला कलक्ट्री सभा कक्ष में कोविड-19 के अन्तर्गत संचालित गतिविधियों की समीक्षा के लिए अधिकारियों की बैठक ली और समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

जिला कलक्टर मेहता ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभागीय अधिकारियों से कहा कि शहर की घनी बस्तियों में रेण्डम सेंपल्स की संख्या बढ़ाएं और यह सुनिश्चित करें कि जिले से रोजाना कम से कम ढाई सौ से तीन सौ तक सेंपल लेकर जांच के लिए भिजवाएं। उन्होंने कहा कि निकट सम्पर्क में आने वाले लोगों के सेंपल्स अनिवार्य रूप से लिए जाएं। इसके अलावा उन लोगों व दुकानदारों के भी सेंपल लिए जाएं जिनका हाल के समय में अधिक से अधिक लोगों से सम्पर्क हुआ हो।

बैठक मेंं उप निवेशन उपायुक्त दुर्गेश बिस्सा, नगर विकास न्यास के सचिव अनुराग भार्गव, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी. विश्नोई, मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश, सहायक निदेशक (लोक सेवाएं) भारतभूषण गोयल, उपखण्ड अधिकारी दिनेश विश्नोई, तहसीलदार विकास भाटी, नगर परिषद आयुक्त बृजेश राय, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी सत्येन्द्र कुमार व्यास, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. बी.एल. बुनकर, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी (स्वास्थ्य) डॉ. एम.डी. सोनी, जिला रसद अधिकारी भागुराम महला, जिला औषधि नियंत्रण अधिकारी राजेश मीणा, प्रोग्रामर मनोज विश्नोई आदि अधिकारी उपस्थित थे।

जिला कलक्टर ने सभी अधिकारियों से फीडबेक लिया और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने कोविड केयर सेंटर के प्रबन्धों की समीक्षा करते हुए शीघ्र सभी व्यवस्थाएं पूर्ण करने, सीसीटीवी कैमरे लगाने, क्षेत्रीय भ्रमण के दौरान पेयजल आपूर्ति की स्थिति की नियमित रूप से जांच करने, पानी से संबंधित समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए तात्कालिक प्रयास करने, नवसृजित पंचायतों एवं पंचायत समितियों में खाली पड़े राजकीय भवनों की उपयोगिता सुनिश्चित करने, पानी के नमूने लेकर जांच कराने, जल स्रोतों की ब्लीचिंग, चारा डिपो के प्रस्तावों पर अग्रिम कार्यवाही करने, होम क्वारंटीन की जांच, बाहर से आने वाले हरेक व्यक्ति को 14 दिन होम क्वारंटीन करने आदि के बारे में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए।

---000---Read More