06-04-2020 Monday

कोरोना वायरस संक्रमित पाए जाने के बाद और अधिक सख्त हुआ प्रशासन, पोकरण नगरपालिका क्षेत्र में निषेधाज्ञा के अन्तर्गत लगाई सख्त पाबन्दियाँ,

6 April, 2020

जिला मजिस्ट्रेट नमित मेहता द्वारा जारी आदेश तत्काल प्रभाव से लागू

जैसलमेर, 6 अप्रेल/पोकरण नगरपालिका क्षेत्र में एक व्यक्ति के कोरोना वायरस संक्रमण की जाँच में पोजिटीव पाए जाने के बाद जिला प्रशासन ने संक्रमण के प्रसार को रोकने की दृष्टि से हर स्तर पर कड़े कदम उठाए हैं और समूचे पोकरण नगरपालिका क्षेत्र में  धारा 144 के अन्तर्गत तत्काल प्रभाव से सख्त पाबन्दियां लगा दी हैं।

    जिला मजिस्ट्रेट एवं जिला कलक्टर नमित मेहता ने पोकरण नगरपालिका क्षेत्र में निवासरत नागरिकों के स्वास्थ्य की सुरक्षा एवं लोक प्रशान्ति बनाये रखने की दृष्टि से भारतीय दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के तहत कड़ी निषेधाज्ञा जारी की है।

सख्ती से लागू हैं ये प्रतिबंध

    आदेश में कहा गया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की गंभीरता को देखते हुए पोकरण नगर पालिका क्षेत्र में निवासरत व्यक्ति अपने आवास से बाहर आवागमन नहीं करेंगे। क्षेत्र में अवस्थित समस्त व्यवसायिक एवं औद्योगिक प्रतिष्ठान, फैक्ट्री (चिकित्सकीय क्षेत्र को छोड़कर) शिक्षण संस्थाएं, रेस्टोरेन्ट, होटल, खोमचे, खाने पीने इत्यादि की वस्तु रखने वाले ठेले, माँस विक्रय केन्द्र, दुकानें एवं फेरी वाले बन्द रहेंगे तथा समस्त सामूहिक मानवीय गतिविधियां, रैली, जुलूस, सभा इत्यादि पूर्णतः प्रतिबन्धित रहेंगी।

    पोकरण नगरपालिका क्षेत्र में अति-आवश्यक सेवाओं (किराणा, खा़द्य सामग्री, दवाइयां, दूध, सब्जी, रसोई गैस, जनरल स्टोर एवं पेट्रोल पम्प ) के संचालन के लिए चिह्नित अनुमत वाहन के लिए केवल होम डिलीवरी के ही पास मान्य होंगे। कोरोना वायरस संक्रमण रोकथाम में लगे हुए राजकीय कार्मिकाें के जारी पास मान्य होंगे। समस्त प्रकार के निजी भारी एवं हल्के मोटर व्हीकल का आवागमन भी पूर्णतः प्रतिबन्धित रहेगा।

    खाद्य सामग्री, दवाइयां, सब्जियाँ, दूध, गैस इत्यादि अति-आवश्यक सेवाओं के परिवहन के लिए अनुुमत लोडिंग वाहन का उपयोग लिया जा सकेगा।  पुलिस विभाग, रसद विभाग, चिकित्सा विभाग द्वारा कालाबाजारी, जमाखोरी, मूल्य वृद्धि के विरूद्ध सख्त कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जा सकेगी। समस्त धार्मिक स्थलों में आमजन व दर्शनार्थियों पर पूर्ण प्रतिबन्ध रहेगा।

ये रहेंगे प्रतिबंध से मुक्त

    यह प्रतिबन्ध बीमार व्यक्तियों, चिकित्सकीय आपात स्थिति से प्रभावित व्यक्तियों के लिए लागू नहीं होगा। पोकरण नगरपालिका क्षेत्र में समस्त चिकित्सालय में स्थित मेडिकल स्टोर, चिकित्सा सेवाओं से जुडे संस्थान उक्त प्रतिबन्ध से मुक्त रहेंगे।खाद्य सामग्री, मेडिकल टीम, सफाई कर्मी, मीडिया तथा आवश्यक सेवाओं के वाहन इस आदेश से मुक्त रहेंगे।

सभी बाध्य हैं आदेश की अनुपालना करने को

    आदेश के अनुसार ’’ राजस्थान एपीडेमिक डिजीजेज एक्ट, 1957’’  एवं स्वास्थ विभाग राजस्थान सरकार की 12 मार्च 2020 को जारी अधिसूचना में उल्लेखित प्रावधानों तथा राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों की पालना जिले के समस्त नागरिकों द्वारा आवश्यक रूप से की जायेगी। समस्त जिला स्तरीय अधिकारी/कार्मिकों द्वारा इसमें आवश्यक सहयोग किया जावेगा।

पाबन्दियों के उल्लंघन पर होगी सख्त कानूनी कार्यवाही

    पोकरण नगरपालिका क्षेत्र के सभी नागरिकों को इस आदेश की पालना करने के आदेश दिए गए हैं और कहा गया है कि इनकी अवहेलना व प्रतिबंधात्मक आदेशों का उल्लंघन करने पर भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188, 269, 270 एवं ’’ राजस्थान एपीडेमिक डिजीजेज एक्ट, 1957 एवं ’’आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005’’ के सुसंगत विधिक प्रावधानों के अन्तर्गत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

    आदेश की अनुपालना में पोकरण नगरपालिका क्षेत्र में प्रवेश स्थानों का चिह्निकरण कर निगरानी जाब्ता लगा दिया गया है एवं सख्ती से पाबंद किया गया है कि मेडिकल टीम के सदस्य उपस्थित रहकर आने वाले लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग कर अति-आवश्यक सेवाओं में लगे लोगों को आने-जाने देंगे।

    उल्लेखनीय है कि जैसलमेर जिले के पोकरण शहर में रविवार को एक व्यक्ति के कोरोना वायरस संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद जिला प्रशासन ने व्यापक स्तर पर कदम उठाए और सख्ती से पाबन्दियां लागू की।

---000---

 

 

के. वि. (वायुसेना) जैसलमेर "ऑनलाइन शिक्षा"

 

 केंद्रीय विद्यालय (वायुसेना स्थल) जैसलमेर में ऑनलाइन शिक्षा की शुरुआत की गईl

 

विद्यालय प्राचार्य श्री सुशील कुमार ने बताया कि कोरोना वायरस के खतरे से बचने के लिए एवं अभिभावकों के सहयोग से नवीन तकनीकी द्वारा ऑनलाइन शिक्षा से विद्यार्थियों को लाभान्वित किया जा रहा हैl केंद्रीय विद्यालय संगठन मुख्यालय एवं संभाग स्तर से विद्यार्थियों से संबंधित मिलने वाली सूचनाओं को भी साझा किया जा रहा है l कुछ दिन पूर्व आरोग्य सेतु एप से भी विद्यालय के सभी छात्रों को जोड़ा गया हैl सभी अध्यापक अपनी-अपनी कक्षा में व्हाट्सएप समूह में भी गृह कार्य सांझा कर छात्रों का मूल्यांकन भी कर रहे हैं  तथा छात्रों द्वारा सकारात्मक प्रत्युत्तर भी मिल रहा है

 

    प्राचार्य ने छात्रों को घर पर छोटे-छोटे कार्य करने के लिए भी प्रेरित करते हुए कोरोना के प्रति सतर्क एवं सावधान रहने की नसीहत भी दी, उन्होंने अभिभावकों  से निवेदन किया कि छात्रों को पढ़ाई के लिए प्रेरित करें और रामायण एवं महाभारत जैसे उच्च नैतिक मूल्यों से परिपूर्ण संस्कारित प्रोग्राम देखने के लिए बच्चों को प्रोत्साहित करें ताकि सभी विद्यार्थी समय का सदुपयोग कर सकें l उन्होंने बताया कि यह पढ़ाई विद्यालय खुलने पर सभी छात्रों को पुनः  कक्षाओं में भी करवाई जाएगी

 

वे छात्रों द्वारा बनाए गए  ऑडियो वीडियो एवं सृजनात्मक कार्यों का निरंतर अवलोकन कर अध्यापकों को उचित मार्गदर्शन भी दे रहे हैंl `कोरोना वायरस  (वैश्विक महामारी )` बचाव हेतु विद्यालय परिवार की तरफ से  94,320/- रुपये का सहयोग भी दिया गया है l प्राचार्य ने सहयोग लिए सभी अभिभावकों एवं विद्यालय परिवार  को धन्यवाद दियाl

 

-----000----

पोकरण में जरूरमन्दों के द्वार तक खाद्यान्न सामग्री पहुंचाने की व्यवस्था,

मोबाइल वाहन के जरिये उचित दरों पर हो रही है सामग्री की बिक्री

जैसलमेर, 6 अप्रेल/ जिला कलक्टर नमित मेहता के निर्देशानुसार पोकरण में शहरवासियों तक रोजमर्रा के लिए जरूरी आवश्यक सामग्री पहुंचाने के लिए प्रशासन द्वारा व्यापक स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। पोकरण को ऑपरेटिव मार्केटिंग लि. पोकरण की ओर से मोबाइल वाहनों के माध्यम से आवश्यक खाद्यान्न सामग्री जरूरतमन्दों तक उचित दरों पर पहुुंचायी जा रही है।

    उप रजिस्ट्रार (सहकारी समितियां) सुजानाराम ने बताया कि पोकरण क्रय विक्रय सहकारी समिति द्वारा पोकरण शहर में शहरी उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए दो मोबाइल वेन के जरिये डोर टू डोर सामग्री पहुंचाने का काम किया जा रहा है।

    उन्होंने बतासा कि समिति के मैनेजर घनश्याम छंगाणी (70140 84552) तथा खूनाराम इसके प्रभारी हैं। सुजानाराम ने यह भी बताया कि भामाशाहों द्वारा चाहे जाने पर 400 रुपए की दर से खाद्यान्न के पैकेट उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। इसके साथ ही जिला रसद अधिकारी भागुराम महला के आदेशानुसार वांछित खाद्यान्न पैकेट समिति द्वारा प्रशासन को भी उपलब्ध कराए जाने की कार्यवाही की जा रही है।

    जिला रसद अधिकारी भागुराम महला ने बताया कि क्षेत्र में जरूरतमन्दों को विभिन्न माध्यमों से एफपीएस के अन्तर्गत होम डिलीवरी के जरिये खाद्यान्न सामग्री पहुंचाने का काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा जिले के विभिन्न क्षेत्रों में लॉक डाउन प्रभावित निराश्रितों और जरूरतमन्दों तक राशन सामग्री के किट पहुंचाने का काम भी जारी है।

---000---

आगजनी प्रभावित तक पहुंचा प्रशासन, त्वरित सहायता मुहैया कराई

जैसलमेर, 6 अप्रेल/जैसलमेर जिले के मोहनगढ़ में भीलों की ढांणी में रहने वाले रावताराम भील के झोंपड़े में अचानक आगजनी से हुए नुकसान के बाद सूचना मिलते ही तत्काल मोहनगढ़ के तहसीलदार भैराराम कार्मिकों के साथ मौके पर पहुुंचे और आहत परिवार की सुध ली तथा आवश्यक भोजन सामग्री का किट प्रदान कर भोजन का प्रबन्ध किया। अब उसे मुख्यमंत्री सहायता कोष से राहत दिलाने की कार्यवाही की जा रही है।

तहसीलदार भैराराम को आगजनी प्रभावित रावताराम ने बताया कि कच्ची झोंपड़ी में अचानक आग लग गई। इस घर में रखे 20 हजार रुपए नकद, सोने-चांदी के गहने, ओढ़ने-बिछाने व पहनने के अनुमानित 20 हजार रुपए मूल्य के वस्त्र तथा बकरी के 12 बच्चे जलकर राख हो गए।

    इस घटना की सूचना पर जिला कलक्टर नमित मेहता ने उपखण्ड अधिकारी को निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री सहायता कोष से आर्थिक सहायता के लिए इसके प्रस्ताव शीघ्र तैयार करवाएं।

---000---

पोकरण में प्रशासन हाई अलर्ट पर,

युद्धस्तर पर हो रहा डोर टू डोर सघन सर्वे कार्य,

संभागीय आयुक्त एवं पुलिस महानिरीक्षक ने लिया स्थितियों का जायजा,

अधिकारियों की बैठक लेकर दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

 

जैसलमेर, 6 अप्रेल/ पोकरण में कोरोना वायरस संक्रमित के मिलने के बाद पूरा प्रशासन हाई अलर्ट पर है और कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने, बचाव व रोकथाम के लिए सभी जरूरी उपायों को अपनाया जा रहा है।

    उल्लेखनीय है कि पोकरण शहर के वार्ड नम्बर एक में सिपाहियों के मोहल्ले में एक जना जांच में कल कोरोना पोजिटीव पाया गया। इसके बाद ही क्षेत्र में हर तरफ सभी संभव ऎहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। मेडिकल टीमें घर-घर जाकर सघन सर्वे करने में जुटी हुई हैं तथा सारे रास्ते सील कर दिए गए हैं।

    प्रशासन ने लोगों के घरों से बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगा दिया है और धारा 144 के अन्तर्गत पूरे पोकरण नगरपालिका क्षेत्र में कड़ी पाबन्दियां लागू हैं। प्रशासन, पुलिस तथा चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी पोकरण में डेरा डाले हुए हर स्थिति पर लगातार पैनी नज़र बनाए हुए हैं।

    इस बीच सोमवार को संभागीय आयुक्त बी.एल. कोठारी एवं पुलिस महानिरीक्षक नवज्योति गोगोई पोकरण पहुंचे तथा उपखण्ड अधिकारी कार्यालय में महत्वपूर्ण बैठक ली और ताजा हालातों के बारे में जानकारी ली। जिला कलक्टर नमित मेहता, जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग सिद्धू, अतिरिक्त आयुक्त (उप निवेशन) एवं क्षेत्र के प्रभारी दुर्गेश बिस्सा, उपखण्ड अधिकारी अजय, पुलिस उपाधीक्षक मोटाराम, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.के. बारूपाल आदि ने पोकरण में कोरोना संक्रमण से संबंधित सभी बिन्दुओं पर सिलसिलेवार जानकारी दी और वर्तमान हालातों से अवगत कराया।

    संभागीय आयुक्त एवं पुलिस महानिरीक्षक ने कोरोना वायरस संक्रमण के सभी जरूरी उपाय सुनिश्चित करने तथा इनसे संबंधित तमाम गतिविधियों पर गंभीर रहने के निर्देश अधिकारियों को दिए और कहा कि घर-घर सर्वे के कार्य को बेहतर ढंग से शीघ्र पूर्ण करें।

    संभागीय आयुक्त बीएल कोठारी ने डोर टू डोर मेडिकल सर्वे, घरों तक लोगों की जरूरत की सामग्री पहुंचाने की बेहतर व्यवस्था करने, चिकित्सा तंत्र एवं बहुआयामी सेवाओं को और अधिक सुदृढ़ करने, नियंत्रण कक्षों के संचालन को और अधिक प्रभावी बनाते हुए इनके फोन नम्बरों के व्यापक प्रचार-प्रसार करने,कोरोन्टाईन सुविधाओं में अभिवृद्धि के लिए अतिरिक्त कक्षों को चिह्नित कर इनमें सभी जरूरी व्यवस्थाओं को अंजाम देने, पोकरण शहर में प्रवेश पर कठोरता से पाबंदी बनाए रखने, शहर में धारा 144 की पूरी सख्ती से पालना सुनिश्चित करने आदि के निर्देश दिए।

    पुलिस महानिरीक्षक नवज्योति गोगोई ने कानून व्यवस्था की समीक्षा की और हर स्तर पर पूरी तरह गंभीरता बरतने और प्रतिबंधों को पूरी कड़ाई से लागू करने आदि के निर्देश दिए।

    संभागीय आयुक्त बीएल कोठारी एवं पुलिस महानिरीक्षक नवज्योति गोगोई ने पोकरण नगरपालिका क्षेत्र का भ्रमण किया और हालातों का जायजा लिया।

    जिला कलक्टर नमित मेहता एवं जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग सिद्धू ने जैसलमेर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव व रोकथाम के लिए किए गए ऎहतियाती उपायों खासकर पोकरण क्षेत्र के लिए कोरोना संक्रमित मिलने के बाद की गई व्यवस्थाओं पर जानकारी दी।

    अतिरिक्त आयुक्त दुर्गेश बिस्सा एवं उपखण्ड अधिकारी अजय ने पोकरण शहर में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव व रोकथाम के संदर्भ में चल रही गतिविधियों की जानकारी दी। बैठक में जानकारी दी गई कि पोकरण नगर पालिका क्षेत्र के सभी वार्डों में डोर टू डोर सर्वे युद्धस्तर पर जारी है। इसके लिए 20 सर्वे टीमों द्वारा यह कार्य किया जा रहा है। इनमें एएनएम, बीएलओ, शिक्षा विभागीय कार्मिकों का सहयोग लिया जा रहा है।

    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.के. बारूपाल ने बैठक में जानकारी दी कि कोरोना संक्रमित पाए गए व्यक्ति के घर-परिवार वालों, सम्पर्कितों, उसके साथ काम करने वाले कार्मिकोें आदि की लाईन लिस्ट बना कर स्क्रीनिंग की जा रही है और इनकी सेंपलिंग की कार्यवाही जारी है।

    बैठक में पुलिस उपाधीक्षक मोटाराम, तहसीलदार राजेश विश्नोई, खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. लौंग मोहम्मद आदि उपस्थित थे।

---000---

सम ग्राम पंचायत में गरीबों और दिहाड़ी श्रमिकों को राशन किट वितरित

 

जैसलमेर, 6 अप्रेल/ लॉक डाउन के चलते जिले में आवश्यक भोजन सामग्री का वितरण व्यापक पैमाने पर जारी है। सोमवार को जैसलमेर जिले की सम ग्राम पंचायत में गरीबों और जरूरतमन्द 32 दिहाड़ी मजदूरों के परिवारों को नायब तहसीलदार अमृतलाल सेन ने 42 राशन किट वितरित किए। नायब तहसीलदार ने बताया इसमें भामाशाह के.जी.एन. डेयरी के अमीन खां ने अपनी ओर से 11 किट का योगदान दिया।

----000---

कोरोना हैल्थ बुलेटिन - 6 अप्रेल 2020

जैसलमेर - सोमवार को 29 सेम्पल लिए गए

    जैसलमेर, 6 अप्रेल/जैसलमेर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के ऎहतियाती उपायों के अन्तर्गत व्यापक स्तर पर कारगर प्रयास निरन्तर जारी हैं। जिले में अब तक हुई चिकित्सकीय जांच में मात्र एक व्यक्ति ही कोरोना पोजिटिव  पाया गया है।

    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.के. बारूपाल ने दैनिक कोरोना हैल्थ बुलेटिन जारी करते हुए बताया कि जैसलमेर जिले में सोमवार तक कुल 5 हजार 094 लोगों को होम आइसोलेशन में भेजा जा चुका र्है। इनमें से 1 हजार 812 लोगों द्वारा होम आइसोलेशन की निर्धारित 14 दिन की अवधि पूर्ण कर ली गई है।

    आरंभ से सोमवार शाम तक जिले में कोरोना जांच के लिए कुल 135 सेंपल लिए गए जबकि अकेले सोमवार को 29 सेंपल लेकर जांच के लिए जोधपुर भिजवाए गए हैं।

     जिले से भिजवाए गए कुल 135 में से 66 जनों के कोरोना सेेंपल जांच में नेगेटिव आए हैं जबकि 68 की कोरोना सेंपल की रिपोर्ट आनी शेष है। सोमवार को जिले के चिकित्सा संस्थाओं में कुल 10  मरीज आइसोलेशन वार्डों में भर्ती हैं।

---000---

डीएम एवं एसपी ने पोकरण शहरी क्षेत्र का दौरा किया,

कफ्र्यू की कठोरता से पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए

    जैसलमेर, 6 अप्रेल/जिला कलक्टर नमित मेहता ने जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग सिद्धू एवं अन्य अधिकारियों के साथ सोमवार को पोकरण शहरी क्षेत्र का दौरा किया और लॉक डाउन की पालना तथा कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव व रोकथाम के लिए सुनिश्चित किए गए उपायों के बारे में विस्तार से जानकारी ली। अतिरिक्त आयुक्त (उप निवेशन) दुर्गेश बिस्सा, उपखण्ड अधिकारी अजय सहित पोकरण उपखण्ड क्षेत्र के पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी भी साथ थे।

    जिला कलक्टर एवं एसपी ने शहर के वार्ड नम्बर 1 सहित विभिन्न वार्डों का दौरा किया और धारा 144 के अन्तर्गत पूर्ण निषेधाज्ञा(कफ्र्यू) की पालना का जायजा लिया। जिला कलक्टर एवं एसपी ने स्थानीय अधिकारियों से क्षेत्र की मौजूदा स्थिति के बारे में जानकारी ली और सभी निर्देशों की अक्षरशः पालना करने के निर्देश दिए।

    जिला कलक्टर ने कहा कि धारा 144 के अन्तर्गत जारी पूर्ण निषेधाज्ञा का पूरा-पूरा पालन हर स्तर पर सुनिश्चित करें। सीमाएं सील रखें और शहरवासियों की रोजमर्रा की आवश्यक सामग्री मुहैया कराने के लिए डोर टू डोर डिलीवरी को प्रभावी बनाएं।

    जिला कलक्टर ने बताया कि कोरोना संक्रमित पाए गए व्यक्ति की रिपोर्ट पोजिटीव आने के बाद उसके घर-परिवार वालों, निकट परिजनों, मोहल्ले के लोगों, उसके कार्यस्थल में साथ काम करने वाले कार्मिकों आदि के साथ ही उसके निकट सम्पर्क में रहे लोगों को ट्रेस किया जा रहा है तथा इनकी स्क्रीनिंग कर सेंपल लिए जा रहे हैं और इसकी कान्टेक्ट ट्रेसिंग का कार्य विभिन्न स्तरों पर पूरी गंभीरता से किया जा रहा है।

    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.के. बारूपाल ने सोमवार रात बताया कि पोकरण में कोरोना संक्रमित पाए गए व्यक्ति से संबंधित लोगों के कुल 48 सेंपल लिए गए हैं। इनमें 27 सेंपल उसके घर-परिवार, रिश्तेदारों तथा निकट सम्पर्क में आए व्यक्तियों के हैं जबकि 21 सेंपल बिजलीघर के कार्मिकों के लिए गए हैं जिनके साथ वह काम करता था। कोरोना संक्रमित से निकट सम्पर्क में आए लोगों की जानकारी जुटायी जा रही है और इनकी भी सेंपलिंग का कार्य किया जाएगा।

---000---

सोशल मीडिया पर भ्रामक पोस्ट करने पर पुलिस थाना कोतवाली द्वारा 01 के खिलाफ कार्यवाहीRead full News

-----000----

पारले कंपनी द्वारा  ड्यूटी  पर तैनात कर्मियों के अल्पहार के लिए बिस्कुट के 52 कार्टून किये गए भेटRead full News

-----000---