02-04-2020 Thursday

जैसलमेर - युद्धस्तर पर जारी हैं कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के ऎहतियाती उपाय, निरन्तर सतर्कता बरतने के मकसद से पुनः कराया जा रहा है सर्वे, जिले भर में घर-घर पहुंचकर सघन सर्वे का दूसरा चरण शुरू

जैसलमेर, 2 अपे्रल/कोराना वायरस संक्रमण से बचाव एवं इससे रोकथाम के लिए जिले भर में हर स्तर पर व्यापक एवं ऎहतियाती उपाय युद्ध स्तर पर जारी है। जिला प्रशासन इस मामले में व्यापक सतर्कता बरत रहा है और इसी के मद्देनज़र डोर टू डोर सर्वे का दूसरा चरण चलाया जा रहा है।

 

जिला कलक्टर नमित मेहता ने बताया कि जिले में घर-घर सर्वे का प्रथम चरण हाल ही सफलतापूर्वक पूर्ण किया जा चुका है और अब सतर्कता के लिए दूसरा चरण गुरुवार से आरंभ कर दिया गया है। इसके अन्तर्गत जिले भर में घर-घर पहुंच कर सर्वे कार्य होगा।

 

जिला कलक्टर ने जिलेवासियों से अपील की है कि सर्वे कार्य के लिए आने वाले कार्मिकों को सही-सही जानकारी दें, कोई भी बात छिपाएं नहीं। इसके साथ ही बाहर से आकर कोई व्यक्ति यदि रह रहा है तो उसके बारे में भी जानकारी साझा करें।

 

जिला कलकटर ने बताया कि घर-घर सर्वे के लिए पहुंच रही सर्वे टीमें कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षणों तथा इससे बचाव एवं रोकथाम के उपायों के बारे भी लोगों को जानकारी देंगी और गांवों तथा शहरों में लोगों को जागरुक भी करेंगी। उन्होंने मेहता ने बताया कि जिले भर में यह कार्य तीन दिन में पूरा कर लिए जाने के निर्देश दिए गए हैं।

 

---000---

 

जैसलमेर - पंचायत मुख्यालय स्थित रामावि/राउमावि कोरोन्टाईन सेंटर के रूप में प्रस्तावित,

पीईईओ को बनाया गया प्रभारी

 

जैसलमेर, 2 अप्रेल/कोविड संक्रमण -19 से बचाव के मद्देनज़र जिला कलक्टर नमित मेहता ने जिले भर में सभी पंचायत मुख्यालयों पर स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक /माध्यमिक विद्यालयों को संगरोध केन्द्र (कोरोन्टाईन सेंटर) के रूप में काम में लिया जाना प्रस्तावित करने के आदेश जारी किए हैं और पंचायत मुख्यालय पर पदस्थापित पीईईओ को इन केन्द्रों का प्रभारी नियुक्त किया है।

 

जिला कलक्टर द्वारा जारी आदेश के अनुसार संबंधित उपखण्ड अधिकारी आवश्यकतानुसार इन केन्द्रों को संचालित करने के लिए निर्देशित करेंगे तथा पीईईओ इन केन्दों की सभी व्यवस्थाओं का संचालन उपखण्ड अधिकारी के निर्देशानुसार करेंगे। केन्द्र पर व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए राज्य वित्त आयेाग पंचम के अनतर्गत संबंधिक ग्राम पंचायम द्वारा राशि स्वीकृत की जा सकेगी। संबंधित ग्राम विकास अधिकारी केन्द्र संचालन के लिए पीईईओ को सहयोग करेंगे। संबंधित पीईईओ आवश्यकतानुसार उसी विद्यालय अथवा पंचायत के अन्य विद्यालयों के कार्मिकों की पारियों के अनुसार ड्यूटी लगाएंगे।

 

सभी पीईईओ से कहा गया है कि 5 अपेे्रल तक इन आदेशों की पालना कर सीबीईओ/एसडीएम को अवगत कराएंगे। मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी सत्येन्द्र कुमार व्यास को इस कार्य की मोनिटरिंग का जिम्मा सौंपा गया है।

 

---000---

 

जैसलमेर - भामाशाहों द्वारा आर्थिक सहयोग का दौर निरन्तर जारी

 

जैसलमेर, 2 अप्रेल/कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के ऎहतियाती उपायों के साथ ही लॉक डाउन की स्थिति में जरूरतमन्दों को राहत के लिए जैसलमेर जिले के भामाशाहों, प्रतिष्ठानों व संस्थाओं द्वारा आर्थिक सहयोग दिए जाने का दौर निरन्तर बना हुआ है।

 

गुरुवार को स्वरूप टेक्नो कम्पोनेन्ट्स के नरपतराम सुथार एवं अर्जुनराम सुथार ने 3 लाख की आर्थिक सहायता राशि का चैक जिला कलक्टर नमित मेहता को सौंपा। इसी प्रकार पवन कुमार सिंह भाटी ने 1 लाख 1 हजार, श्रीराम मोटर्स, जैसलमेर ने 25 हजार रुपए तथा आनन्द कुमार पुत्र परसाराम ने 21 हजार 100 रुपए धनराशि के चैक जिला कलक्टर को सौंपे। जिला कलक्टर ने जिला प्रशासन की ओर से सभी दानदाताओं का आभार व्यक्त किया। उल्लेखनीय है कि बुधवार शाम प्रभुदान देथा एण्ड कंपनी के प्रभुदान देथा ने 2 लाख 51 हजार रुपए की आर्थिक सहायता का चैक जिला कलक्टर को सौंपा।

 

---000---

 

पशु-पक्षियों के लिए आहार परिवहन एवं आपूर्ति पर कहीं कोई रोक नहीं,

 

जिला कलक्टर ने निर्देश दिए - इनकी निर्बाध आपूर्ति के प्रति गंभीरता बरतें

 

जैसलमेर, 2 अपेे्रल/लॉक डाउन के बावजूद जैसलमेर जिले में पोल्ट्री फीड/पशु आहार इत्यादि के अन्तर्गत चारा, घास आदि को जिले में लाने व जिले में विभिन्न स्थानों पर आवश्यकता अनुरूप परिवहन पर कहीं कोई रोक नहीं है। अन्य जिलों से भी चारा, घास, पशु आहार आदि लेकर जैसलमेर जिले में आने वाली गाड़ियों पर कोई रोक नहीं है।

 

राज्य सरकार के आदेशों का हवाला देते हुए जिला कलक्टर नमित मेहता ने बताया कि इसके लिए जिले भर में अधिकारियों को स्पष्ट आदेश दे रखे हैं कि मवेशियों के पशु आहार/पोल्ट्री फीड आदि को जैसलमेर लाने व जिले में परिवहन में किसी भी प्रकार की समस्या न आने पाए। इनकी निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित की जाए।

 

उन्होंने बताया कि पशु-पक्षियों के लिए आहार की व्यवस्था नितान्त जरूरी है। इनसे संबंधित कच्चे माल, पैकेजिंग सामग्री, उत्पादन, वितरण और बिक्री से संबंधित पूरी आपूर्ति श्रुंखला से संबंधित सभी आवश्यक वस्तुओं की लाक डाउन में अनुमति है।

 

---000---

 

जिला कलक्टर ने श्री जवाहिर चिकित्सालय का अवलोकन किया,

 

कोरोना वायरस संक्रमण रोकथाम एवं बचाव की व्यवस्थाओं का लिया जायजा,

 

पीएमओ को बेहतर व्यवस्थाएं बनाये रखने के दिए निर्देश

 

जैसलमेर , 2 अप्रैल/ कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए जिला अस्पताल श्री जवाहिर चिकित्सालय जैसलमेर में की गई व्यवस्थाओं का जिला कलक्टर नमित मेहता ने गुरुवार को औचक निरीक्षण कर जायजा लिया। जिला कलक्टर ने जिला अस्पताल में तैयार किये गये आईसोलेशन कक्षों, क्वारेन्टाईन कक्षों, वेन्टिलेटर की वर्ततान स्थिति, अन्य उपकरणों की उपलब्धता आदि का सूक्ष्मता से निरीक्षण किया ।

 

      जिला कलक्टर ने चिकित्सा विभागीय अधिकारियों, चिकित्सकाें एवं पेरामेडिकल स्टॉफ सदैव मुस्तैद रहते हुए कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव संबंधी गतिविधियों का पूर्ण सतर्कतापूर्वक क्रियान्वयन करने के निर्देश दिये ।

 

 उन्होंने पीएमओ डॉ बी.एल. बुनकर को विभागीय कार्मिकाें की पारी अनुरूप ड्यूटी लगाने, जिला अस्पताल की सफाई व्यवस्था बेहतर बनाये रखने तथा प्रतिदिन दो बार चिकित्सा संस्थान को संक्रमण मुक्त करने संबंधी कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंने चिकित्सालय के समस्त बाथरूमों व टॉयलेट की नियमित सफाई पर विशेष ध्यान देने, मरीजाें के लिए साफ सुथरी चद्दरें उपलब्ध करवाने के भी निर्देश दिये।

 

 पीएमओ डॉ. बुनकर ने जिला कलक्टर को बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण संबंधी मरीजों के लिए जिला अस्पताल श्री जवाहिर चिकित्सालय जैसलमेर में 50 बैड आरक्षित किये गये है ंतथा 10 बैड कोरोना आईसोलेशन हेतु आरक्षित कर व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई है। वर्तमान में 10 वेन्टिलेटर क्रियाशील हैं।

 

निरीक्षण के दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर ओमप्रकाश विश्नोई, उपनिवेशन उपायुक्त देवाराम सुथार एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.के. बारूपाल भी उपस्थित थे।

 

 जिला कलक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बारूपाल को कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए शहरी क्षेत्र में अधिग्रहित किये गये निजी अस्पतालों में आवश्यक समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

 

     

 

---000---

 

जैसलमेर - जिले में माह अपै्रल के लिए 2107.676 मैट्रिक गेंहूँका आंवटन प्राप्त,

 

थोक विक्रेताओं को किया उप आंवटन

 

जैसलमेर, 2 अप्रेल/खाद्य नागरिक एवं उपभोक्ता नागरिक विभाग जयपुर द्वारा माह अप्रैल-2020 के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना अन्तर्गत (खाद्य सुरक्षा योजना के अतिरिक्त) जैसलमेर जिले को माह अप्रैल 2020 के लिए 2107.676 मैट्रिक टन गेंहूँका अतिरिक्त आंवटन प्राप्त हुआ है।

 

जिला रसद अधिकारी भागुराम महला ने एक आदेश जारी कर प्राप्त गेंहूँका जिले के थोक विक्रेताओं को उप आंवटन कर दिया। आदेश के अनुसार थोक विक्रेता जैसलमेर सहकारी उपभोक्ता होलसेल भण्डार जैसलमेर को 1121.747 मैट्रिक टन तथा पोकरण क्रय-विक्रय सहकारी समिति लिमिटेड पोकरण को 985.929 मैट्रिक गेंहूँका उप आंवटन कर दिया।

 

आदेश के अनुसार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजनान्तर्गत अंत्योदय, बीपीएल, स्टेट बीपीएल व पीएचएस अन्य श्रेणी (खाद्य सुरक्षा योजनान्तर्गत चयनित) राशन कार्ड धारियों को 5 किलोग्राम प्रति व्यक्ति प्रतिमाह निःशुल्क वितरण किया जाएगा। थोक विक्रेता भारतीय खाद्य निगम डिपो से अच्छी किस्म के गेंहूँ का उठाव कर डोर स्टेप डिलीवरी के माध्यम से उचित मूल्य दुकानाें पर पहुंचाना सुनिश्चित करेंगे। इन अतिरिक्त गेंहूँ का आंवटन अप्रैल माह में किया जाना है।

 

----000----

 

रात में की श्रमिकों के जत्थे से समझाईश,

 

ठहराया और भोजन पानी का प्रबन्ध किया

 

जैसलमेर, 2 अप्रेल/जैसलमेर जिले की काणोद ग्राम पंचायत से मोहनगढ़ की तरफ 3 किमी दूर खेतों से जैसलमेर के रास्ते पैदल आगे बढ़ रहे मध्यप्रदेश मूल के रहने वाले श्रमिकों के एक जत्थे को देख कर रुकवाया और पूछताछ की। करीब 80 श्रमिकों के इस समूह ने बताया कि वे एक मुरब्बे में काम कर रहे थे और अब जैसलमेर की ओर जा रहे हैं।

 

बीती रात में विकास अधिकारी हीराराम  ने पहल कर समझाईश की और इन सभी को लॉक डाउन के बारे में अवगत कराते हुए बताया गया कि वे वापस खेतों की ओर लौट जाएं, और वहीं रहें। रात में इन सभी के लिए मौके पर ही प्रशासन की ओर से खाना-पानी का पूरा इंतजाम किया गया और आश्वस्त किया कि उनके लिए भोजन आदि की पूरी व्यवस्था सुनिश्चित है और बराबर जारी रहेगी। इसलिए परेशान न हों, लॉक डाउन खत्म होने के बाद उन्हें अपने घर भिजवाने की व्यवस्था कराई जाएगी।  श्रमिकों ने बात मानी और व्यवस्थाओं के लिए प्रशासन का आभार माना।

 

---000---

जैसलमेर - घर-घर सर्वे का दूसरा चरण जारी,

 

1488 टीमें जुटी हुई हैं गांवों और शहरों में सर्वे कार्य में

 

जैसलमेर, 2 अप्रेेल/कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के ऎहतियाती उपायों के संदर्भ में जिला प्रशासन हर स्तर पर पूरी सतर्कता बरत रहा है। इसी के मद्देनज़र जिले भर में एक बार फिर घर-घर सर्वे कार्य किया जा रहा है।

 

जिला कलक्टर नमित मेहता ने बताया कि जिले में यह सर्वे कार्य गुरुवार को व्यापक पैमाने पर आरंभ हो गया है। तीन दिन में यह पूर्ण होगा। इस कार्य के लिए 1 हजार 488 टीमें जिले भर में घर-घर पहुंचकर सर्वे कर रही हैं। इनमें 1418 टीमें ग्रामीण क्षेत्रों में सर्वे कार्य में जुटी हुई हैं जबकि 70 टीमें पोकरण एवं जैसलमेर शहर में सर्वे कार्य कर रही हैं। इस विस्तृत सर्वे के दौरान खासकर खांसी, जुकाम, बुखार और साँस लेने में तकलीफ जैसी बीमारियों के बारे में विशेष फोकस किया जा रहा है।

 

आशातीत रूप सफल रहा पहला चरण

 

जिला कलक्टर ने बताया कि घर-घर सर्वे का पहला चरण हाल ही सम्पन्न हुआ। इसमें 1 लाख 12 हजार 760 परिवारों के 6 लाख 78 हजार 056 सदस्यों का सर्वे किया गया। इनमें शहरी क्षेत्रों में 16 हजार 125 परिवारों के 91 हजार 478 सदस्यों का सर्वे किया गया। इसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्रों में 96 हजार 635 परिवारों से जुड़े 5 लाख 86 हजार 578 सदस्यों का सर्वे किया गया।

 

---000---

 

जैसलमेर - दुर्गेश बिस्सा भणियाणा एवं पोकरण उपखण्ड क्षेत्रों के प्रभारी बनाए गए

 

जैसलमेर, 2 अपे्रल/ जिला कलक्टर नमित मेहता ने एक आदेश जारी कर उप निवशन विभाग के अतिरिक्त आयुक्त दुर्गेश बिस्सा को कोरोना वायरस संक्रमण के समुचित नियंत्रण एवं क्षेत्र में इस दिशा में प्रभावी कार्यवाही के लिए पोकरण एवं भणियाणा उपखण्ड क्षेत्र का प्रभारी बनाया गया है। बिस्सा इन दोनों ही उपखण्ड क्षेत्रों में चल रही गतिविधियों पर समुचित नियंत्रण रखते हुए रोजाना की जानकारी के साथ जिला कलक्टर को रिपोर्ट देंगे।

 

---000---

जैसलमेर - जिला कलक्टर ने ली डेली समीक्षा बैठक,

किया जिले के हालातों का रिव्यू, अधिकारियों को दिए निर्देश

 

जैसलमेर, 2 अप्रेल/जिला कलक्टर नमित मेहता ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के ऎहतियाती उपायों की गुरुवार शाम समीक्षा बैठक ली और अधिकारियों को समुचित निर्देश दिए। इसमें जिले के प्रमुख जिलास्तरीय  अधिकारी उपस्थित थे।

जिला कलक्टर ने बिन्दुवार चर्चा की और अधिकारियों को व्यापक निर्देश दिए। इनमें कहा गया कि बाहर का कोई भी व्यक्ति व पैंसेजर वाहन जैसलमेर जिले की सीमा में उपखण्ड अधिकारी की अनुमति के बगैर प्रवेश नहीं कर सकेगा। इसकी सख्ती से पालना कराएं।

चिकित्सा और स्वास्थ्य विभागीय अधिकारियों से कहा कि चिकित्सा से संबंधित सभी प्रकार की व्यवस्थाओं को पुख्ता रखें। उपकरण, दवाइयां, जांच किट, मॉस्क, सेनेटाईजर, स्क्रीनिंग आदि के पर्याप्त प्रबन्ध रखें। चैक पोस्ट्स पर स्क्रीनिंग की उपयुक्त व्यवस्था करें। जिले में स्थापित किए गए सभी कोरोन्टाईन सेंटर्स को उपयुक्त मानदण्डों के अनुसार तैयार रखें।

जिला रसद अधिकारी से कहा कि अप्रेल की खाद्य सामग्री की वितरण व्यवस्था त्वरित गति से पूर्ण कराएं और गैस उपभोक्ताओं के लिए रिफिलिंग सुविधा के प्रति गंभीर रहें। भोजन सामग्री के सूखे पैकेट्स की व्यवस्था भामाशाहों के सहयोग से पूर्ण रखें। जिला कलक्टर ने अधिकारियों से कहा कि सिंचित क्षेत्र में प्रवासी श्रमिकों का मूवमेंट रोकें और जहां विचरण करते पाए जाएं वहीं नजदीक के सरकारी भवनों में इन्हें ठहराने तथा भोजन आदि की व्यवस्था करें।

---000---

जैसलमेर -शुक्रवार से जरूरतमन्दों को खाद्य सामग्री के पैकेट्स का वितरण शुरू

जैसलमेर, 2 अप्रेल/राज्य सरकार के निर्देशों की पालना में लॉक डाउन की स्थिति में जैसलमेर जिले में सर्वे के दौरान सामने आए गरीबों, असहायों और लोगों के परिवारों के लिए शुक्रवार से खाद्य सामग्री के पैकेट मुहैया कराए जाएंगे। इसमें सात दिन की भोजन सामग्री शामिल होगी। यह निर्देश जिला कलक्टर नमित मेहता ने गुरुवार शाम जिलास्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक में दिए।

---000---

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

कोविड-19 राहत के अन्तर्गत 3 माह तक महिलाओं के

जन-धन खाते में सरकार जमा करेगी 500-500 रुपए,

खाताधारकों से कहा गया - भीड़ न करें

जैसलमेर, 2 अप्रेेल/ प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अन्तर्गत कोविड -19 राहत में आगामी 3 माहोें तक महिलाओं के जन-धन खातों में प्रतिमाह 500 रुपए की राशि जमा कराई जा रही है।

अग्रणी जिला प्रबन्धक रामजीलाल मीणा ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के मद्देनज़र भीड़ भाड ़से बचने के लिए यह व्यवस्था की गई है कि जिन खातों के अंतिम अंक 0 और 1 है, उन खातों से संबंधित महिलाओं को भुगतान 3 अपे्रल, शुक्रवार को किया जाएगा।

इसी प्रकार जिन खातों का अंतिम अंक 2 और 3 हैं उनको 4 अप्रेल को भुगतान होगा। जिन खातों का अंतिम अंक 4 व 5 है उनको भुगतान 7 अप्रेल को होगा।  जिनका अंतिम अंक 6 व 7 है उनका भुगतान 8 अप्रेल को किया जाएगा। जिन खातों का अंतिम अंक 8 व 9 है उनको भुगतान 9 अपे्रल को किया जाएगा।

यह स्पष्ट किया गया है कि 9 अप्रेल के बाद खाताधारक जब भी चाहे, बैंक से अपनी राशि निकाल सकता है। बैंक क्षेत्रों ने सभी खाताधारकों से अपील की है कि वे बैंकों में अनावश्यक भीड़ न करें तथा अपने नजदीक के किसी भी एटीएम अथवा बैंक मित्र अथवा ग्राहक सेवा केन्द्र से रूपे कार्ड का प्रयोग कर अथवा पीओएस मशीन से अधिकतम दो हजार रुपए निकाल सकते हैं।

---000---

उप निवेशन तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार को कार्यपालक मजिस्ट्रेट की शक्तियां प्रदान

जैसलमेर,2 अप्रेल/जिला मजिस्ट्रेट एवं जिला कलक्टर नमित मेहता ने एक आदेश जारी कर उप निवेशन तहसीलदार/नायब तहसीलदार को आगामी 14 अप्रैल तक कार्यपालक मजिस्ट्रेट की शक्तियां प्रदान की हैं।

आदेश के अनुसार उप निवेशन तहसीलदार नाचना नं.1 व मोहनगढ़ नं. 1 तथा नायब तहसीलदार रामगढ़ को कार्यपालक मजिस्ट्रेट की शक्तियां प्रदान की हैं और इन्हें क्रमशः पुलिस थाना नाचना, मोहनगढ़ एवं रामगढ़ में  धारा 107, 109, 110 एवं 151 के तहत प्राप्त होने वाले प्रकरणों की सुनवाई करने, स्वतंत्र रूप से निष्पादन किए जाने तथा कोरोना वायरस संक्रमण के कारण जारी लॉक डाउन की पालना कराने के लिए कार्यपालक मजिस्ट्रेट की शक्तियों का प्रयोग करने के लिए अधिकृत किए गए हैं।

---000---

लॉक डाउन में धार्मिक सभाओं, जुलूसों व झांकियों पर रहेगा प्रतिबंध

जैसलमेर, 2 अपे्रल/राज्य सरकार के आदेश से लॉक डाउन अवधि में जिले मेें विभिन्न धर्मों के त्याहोरों, जयन्ती आदि के अवसर पर धार्मिक सभाओं, जुलूसों व झांकियों पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। इसके जिला मजिस्ट्रेट नमित मेहता ने प्रतिबंधों का आदेश जारी किया है और सभी संबंधित अधिकारियों से कहा है कि राज्य सरकार के आदेश की सख्ती से पालना कराएं।

---000---